Spritual

।। अति महत्वपूर्ण बातें पूजा से जुड़ी हुई।।

  ★ एक हाथ से प्रणाम नही करना चाहिए। ★ सोए हुए व्यक्ति का चरण स्पर्श नहीं करना चाहिए। ★ बड़ों को प्रणाम करते समय उनके दाहिने पैर पर दाहिने हाथ से और उनके बांये पैर को बांये हाथ से छूकर प्रणाम करें। ★ जप करते समय जीभ या होंठ को नहीं हिलाना चाहिए। इसे… read more »

त्योहार, व्रत, पूर्णिमा, मुहूर्त 2017

  *दिनांक – 01 सितम्बर* – दशमी *दिनांक – 02 सितम्बर* – पदमा एकादशी व्रत *दिनांक – 03 सितम्बर* – प्रदोष व्रत , वामन जयन्ती *दिनांक – 04 सितम्बर* -त्रयोदशी , पंचक प्रारम्भ *दिनांक – 05 सितम्बर* – अनन्त चतुर्दशी , पूर्णिमा श्राद्ध *दिनांक – 06 सितम्बर* – भाद्रपद पूर्णिमा स्नान आदि , एकम् श्राद्ध… read more »

नेपाल की चौपदी प्रथा

नेपाल की संसद ने वर्षों पुरानी उस हिंदू प्रथा पर रोक लगा दी है जिसके तहत पीरियड्स के दौरान महिलाओं को अपवित्र मानकर उन्हें घर के बाहर रहने हेतु मजबूर किया जाता था. अब ऐसा करने पर आरोपी को 3 महीने की जेल या फिर 3 हजार रुपए जुर्माने के तौर पर देने होंगे. इस… read more »

बिल्वपत्र चढाने के 108 मन्त्र

त्रिदलं त्रिगुणाकारं त्रिनेत्रं च त्रियायुधम् । त्रिजन्म पापसंहारं एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥१॥ त्रिशाखैः बिल्वपत्रैश्च अच्छिद्रैः कोमलैः शुभैः । तव पूजां करिष्यामि एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥२॥ सर्वत्रैलोक्यकर्तारं सर्वत्रैलोक्यपालनम् । सर्वत्रैलोक्यहर्तारं एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥३॥ नागाधिराजवलयं नागहारेण भूषितम् । नागकुण्डलसंयुक्तं एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥४॥ अक्षमालाधरं रुद्रं पार्वतीप्रियवल्लभम् । चन्द्रशेखरमीशानं एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥५॥ त्रिलोचनं दशभुजं दुर्गादेहार्धधारिणम् । विभूत्यभ्यर्चितं देवं एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥६॥… read more »

हनुमान जयंती विशेष

हनुमान जयंती विशेष आज हनुमान जयंती है और बजरंग बली के दर्शन के लिए मंदिरों में भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा है. ज्योतिषियों का कहना है कि 120 साल बाद यह जयंती ऐसे दिन पड़ी है, जो दुर्लभ संयोग है. इस दिन हनुमान जयंती पूर्ण‍िमा तिथि में पड़ी है, जब चित्रा नक्षत्र है. इस दिन… read more »

नीम करौली बाबा या नीब करौरी बाबा या महाराजजी

नीम करौली बाबा या नीब करौरी बाबा या महाराजजी   “Work is worship” Maharajji नीम करौली बाबा या नीब करौरी बाबा या महाराजजी की गणना बीसवीं शताब्दी के सबसे महान संतों में होती है| इनका जन्म स्थान ग्राम अकबरपुर जिला फ़िरोज़ाबाद उत्तर प्रदेश है जो किहिरनगाँव से 500 मीटर दूरी पर है| कैंची, नैनीताल, भुवाली… read more »

Chhat Pooja Vrat katha vidhi (छठ पूजा व्रत कथा विधि)

सूर्य षष्टी महात्मय (Surya Sasthi Mahatmya) भगवान सूर्य जिन्हें आदित्य भी कहा जाता है वास्तव एक मात्र प्रत्यक्ष देवता हैं. इनकी रोशनी से ही प्रकृति में जीवन चक्र चलता है. इनकी किरणों से ही धरती में प्राण का संचार होता है और फल, फूल, अनाज, अंड और शुक्र का निर्माण होता है. यही वर्षा का… read more »

दिवाली पर करें भगवान गणेश के इन मंत्रों का जाप, बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा

  भगवान गणपति की पूजा के दौरान इस मंत्र को पढ़ते हुए उन्हें सिंदूर अर्पण करना चाहिए: सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यं सुखवर्धनम्। शुभदं कामदं चैव सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम्॥ इस मंत्र का जाप करते हुए गौरीपुत्र गणेश को अक्षत(चावल) चढ़ाएं: अक्षताश्च सुरश्रेष्ठं कुम्कुमाक्तः सुशोभितः। माया निवेदिता भक्त्या गृहाण परमेश्वरः॥ इस मंत्र का जाप करते हुए श्री गणेश… read more »

इस भावना से किया काम कभी असफल नहीं होता

संस्कृत के विख्यात विद्वान प्रोफेसर पाल डायसन के निमंत्रण पर विवेकानंद स्विटरज़रलैंड से जर्मनी गए। उपनिषद, वेदांत दर्शन और शंकर भाष्य पर दोनों में विचार विनिमय हुआ।चर्चा के दौरान प्रोफेसर डायसन किसी काम से उठकर चले गए। थोड़ी देर बाद वे लौटे तो देखा कि विवेकानंद कविता की किताब के पन्ने पलट रहे हैं। इस… read more »

ऐसा क्या हुआ कि सिकंदर महान बन गया केवल सिकंदर

जब सिकंदर भारत आया तब उसकी मुलाकात एक फकीर से हुई। सिकंदर को देख फकीर हंसने लगा। इस पर सिकंदर ने सोचा, ‘ये तो मेरा अपमान है’ और फकीर से कहा, ‘या तो तुम मुझे जानते नहीं हो या फिर तुम्हारी मौत आई है’ जानते नहीं में सिकंदर महान हूं। इस पर फकीर और भी… read more »

Sidebar