यमुना नदी , सरस्वती नदी, भागीरथी नदी

यमुना नदी

यमुना नदी गंगा नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी है!यमुना का उद्गम स्थान हिमालय के बन्दरपुच्छ के उत्तर-पश्चिम में कालिंद पर्वत है वहाँ से आगे कई मील तक विशाल हिमगारों और हिम मंडित कंदराओं में अप्रकट रूप से बहती हुई तथा पहाड़ी ढलानों पर से अत्यंत तीव्रतापूर्वक उतरती इसकी धारा यमुनोत्तरी पर्वत से प्रकट होती है वहाँ इसके दर्शनार्थ हजारों श्रद्धालु यात्री प्रतिवर्ष भारत वर्ष के कोने-कोने से पहुँचते हैं!यह अपने उद्गम से लगभग 95 किलोमीटर दूर वर्तमान सहारनपुर जिला के फैजाबाद ग्राम के समीप मैदान में आती है!फिर दिल्ली,आगरा से होती हुई इलाहाबाद में गंगा नदी में मिल जाती है!
▪यह नदी दिल्ली,मथुरा,आगरा,इटावा,कापली,इलाहाबाद जैसे बडे़ शहरों से गुजरती है!
▪यमुना नदी की टोंस,हिडन,शारदा,कुंता,गिरि,चम्बल,बेतवा,केन,सिंध आदि नदियाँ इसकी सहायक नदियाँ है!
▪यमुना की लम्बाई 1376 किलोमीटर है!

सरस्वती नदी

सरस्वती नदी पौराणिक नदी जिसकी चर्चा वेदों में भी है यह नदी सर्वदा जल से भरी रहती थी और इसके किनारे अन्न की प्रचुर उत्पत्ति होती थी कहते है यह नदी पंजाब में सिरमूरराज्य के पर्वतीय भाग से निकलकर अंबाला तथा कुरूक्षेत्र होती हुई कर्नाल जिला और पटियाला राज्य में प्रविष्ट होकर सिरसा जिले की कांगार नदी में मिल गई थी!प्राचीन काल में इस नदी ने राजपूताना के अनेक स्थलों को जलसिक्त कर दिया था!यह भी कहा जाता है कि प्रयाग के निकट तक आकर यह गंगा तथा यमुना में मिलकर त्रिवेणी संगम बनाती है!सरस्वती नदी की लम्बाई 1600किलोमीटर मानी जाती है इस नदी का प्रवाह जमीन के अन्दर होताहै!

भागीरथी नदी

भागीरथी भारत की एक नदी है!यह उत्तराखण्ड में भागीरथी गोमुख से 24 किलोमीटर लम्बे गंगोत्री हिमनद से निकलती है!भागीरथी व अलकनंदा देव प्रयाग संगम बनाती है जिसके पश्चात वह गंगा के रूप में पहचानी जाती है!
भारत में टिहरी बाँध टेहरी विकास परियोजना का प्राथमिक बाँध है,जो उत्तराखण्ड राज्य के टिहरी में स्थित है!यह बाँध भागी रथी नदी पर बनाया है!टिहरी बाँध की ऊँचाई 261 मीटर है जो इसे विश्व का पाँचवा सबसे ऊँचा बाँध बनाती है!इस बाँध से 2400 मेगावाट विद्युत उत्पादन,270000हेक्टर क्षेत्र की सिंचाई और प्रतिदिन 102 करोड़ लीटर पेयजल दिल्ली,उत्तर प्रदेश एवँ उत्तराखण्ड को उपलब्ध कराया जाना प्रस्तावित किया गया है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *