अरब सागर में गिरने वाली – सिंधु नदी, सतलुज नदी, व्यास नदी, चिनाब नदी, रावी नदी, झेलम नदी

सिंधु नदी
सिन्धु नदी एशिया की सबसे बड़ी नदियों में से एक है!यह चीन,भारत और पाकिस्तान से होकर बहती है!सिन्धु का उद्गम स्थल मानसरोवर के निकट सिन का बाब नामक जगह से निकलती है!इस नदी की लम्बाई 2880 किलोमीटर है!यहां से नदी तिब्बत और कश्मीर के बीच में बहती है!नंगा पर्वत के उत्तरी भाग से घूम कर दक्षिण पश्चिम में पाकिस्तान के बीच से गुजरती है फिर जाकर अरब सागर में गिर जाती है!इस नदी में ज्यादातर अंश पाकिस्तान नें प्रवाहित होती है!यह पाकिस्तान की सबसे लम्बी और राष्ट्रीय नदी है! सिन्धु की पाँच सहासक नदियाँ है-वितस्ता,चन्द्रभागा,ईरावती,विपासा एवं शतद्रु!

सतलुज नदी
सतलुज का उद्गम स्थल मानसरोवर के निकट राक्षस ताल से होता है!उद्गम स्थल से हिमाचल प्रदेश से पहले पश्चिम से कैलाश पर्वत के ढाल से होकर गुजरती है! हिमाचल के पहाड़ो से होकर रास्ता तय करती हुई पंजाब के नांगल में प्रवेश करती है!नांगल से कुछ किमी. ऊपर हिमाचल में भाखाड़ा बाँध बनाया गया है!बाँध के पीछे एक विशाल जलाशय का निर्माण होता है उसे गोविन्द सागर जलाशय कहा गया है!भाखड़ा नागल से परियोजना से पन बिजली का उत्पादन होता है!पंजाब में प्रवेश के बाद रोपड़ जिले के शिवालिक पहाडियों से होकर गुजरती है!हरिके में व्यास नदी सतलुज में मिलती है!जहाँ से भारत और पाकिस्तान के बीच सीम का निर्धारण करती है!बाद नें पाकिस्तान के फालिजा हेकर बहती है!बहावलपुर के निकट पश्चिम की ओर चिनाब में जा गिरती है!दोनों नदियाँ मिलकर पंचनद का निर्माण करती है!

व्यास नदी
व्यास पंजाब व हिमाचल मे बहने वाली प्रमुख नदी है नदी की लम्बाई 470 किलोमीटर है!पंजाब की पांच नदियों में से एक है!

चिनाब नदी
भारत के हिमाचल के लाहौल एवं स्पीति जिला में दो नदियों चन्द्र और भागा के संगम से बना है!यह आगे जम्मू कश्मीर से होते हुए पाकिस्तान के सिन्धु नदी मे जा मिलती है!चिनाब नदी पर दुनिया का सबसे ऊँचा पुल बना हुआ है!

रावी नदी
रावी नदी उत्तर भारत में बहने वाली एक नदी है!इसका पौराणिक नाम परुष्णी है!रावी नदी हिमातल के कांडला जिले में रोहतांग दर्रे से निकल कर हिमाचल प्रदेश,जम्मू कश्मीर और पाकिस्तान से बहती हुई झांग जिले की सीमा पर चिनाब नदी में जा मिलती है!जिस पर थिन बाँध बना है!

झेलम नदी
झेलम नदी उत्तरी भारत में बहने वाली एक नदी है!वितस्ता झेलम की वास्तविक नाम है!इसका उद्गम शेषनाग नामी नगर में हुआ है!झेलम नदी की लम्बाई 725 किलोमीटर है!

One Reply to “अरब सागर में गिरने वाली – सिंधु नदी, सतलुज नदी, व्यास नदी, चिनाब नदी, रावी नदी, झेलम नदी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *