भारत में कृषि क्रांतियों के उपनाम

भारत में कृषि क्रांतियों के उपनाम

  •  हरित क्रांति — खाद्यान्न उत्पादन
  •  श्वेत क्रांति — दुग्ध उत्पादन
  •  नीली क्रांति — मत्स्य उत्पादन
  •  भूरी क्रांति — उर्वरक उत्पादन
  •  रजत क्रांति — अंडा उत्पादन
  •  पीली क्रांति — तिलहन उत्पादन
  •  कृष्ण क्रांति — बायोडीजल उत्पादन
  •  लाल क्रांति — टमाटर/मांस उत्पादन
  •  गुलाबी क्रांति — झींगा मछली उत्पादन
  •  बादामी क्रांति — मासाला उत्पादन
  •  सुनहरी क्रांति — फल उत्पादन
  •  अमृत क्रांति — नदी जोड़ो परियोजनाएं
  •  धुसर/स्लेटी क्रांति– सीमेंट
  •  गोल क्रांति– आलु
  •  इंद्रधनुषीय क्रांति– सभी क्रांतियो पर निगरानी रखने हेतु
  •  सनराइज/सुर्योदय क्रांति– इलेक्ट्रॉनिक उधोग के विकास के हेतु
  •  गंगा क्रांति– भ्रष्टाचार के खिलाफ सदाचार पैदा करने हेतु (जोहड़े वाले बाबा/वाटर मैन ऑफ इंडिया/राजेन्द्र सिंह )द्वारा
  •  सदाबहार क्रांति– जैव तकनीकी
  •  सेफ्रॉन क्रांति– केसर उत्पादन से
  •  स्लेटी/ग्रे क्रांति–उर्वरको के उत्पादन से
  •  हरित सोना क्रांति– — बाँस उतपादन से
  •  मूक क्रांति– मोटे अनाजों के उत्पादन से
  •  परामनी क्रांति– भिन्डी उत्पादन से
  •  ग्रीन गॉल्ड क्रांति– चाय उत्पादन से
  •  खाद्द श्रंखला क्रांति– भारतीय कृषकों की 2020 तक आमदनी को दुगुना करने से
  •  खाकी क्रांति– चमड़ा उत्पादन से
  •  व्हाइट गॉल्ड क्रांति– कपास उत्पादन से (तीसरी क्रांति)