भारत का संविधान : भाग 17: राजभाषा(343-351)

Back to INDEX Page

भारत का संविधान : भाग 17: राजभाषा, Constitution of India, PART 17 OFFICIAL LANGUAGE

Important for Exam : 345,346,350

345. राज्य की राजभाषा या राजभाषाएँ, किसी राज्य का विधान-मंडल, विधि द्वारा, उस राज्य में प्रयोग होने वाली भाषाओं में से किसी एक या अधिक भाषाओं को या हिन्दी को उस राज्य के सभी या किन्हीं शासकीय प्रयोजनों के लिए प्रयोग की जाने वाली भाषा या भाषाओं के प्ररूप में अंगीकार कर सकेगा
346. एक राज्य और दूसरे राज्य के बीच या किसी राज्य और संघ के बीच पत्रादि की राजभाषा- राजभाषा हिन्दी भाषा होगी |
348.उच्चतम न्यायालय और प्रत्येक उच्च न्यायालय में सभी कार्यवाहियाँ अंग्रेजी भाषा में होंगी(अँग्रेजी भाषा से भिन्न कोई भाषा विहित की है वहाँ उस  राज्य के राजपत्र में उस राज्य के राज्यपाल के प्राधिकार से प्रकाशित अँग्रेजी भाषा में उसका अनुवाद इस अनुच्छेद के अधीन उसका अँग्रेजी भाषा में प्राधिकृत पाठ समझा जाएगा)
350. प्रत्येक व्यक्ति किसी व्यथा के निवारण के लिए संघ या राज्य के किसी अधिकारी या प्राधिकारी को, यथास्थिति, संघ में या राज्य में प्रयोग होने वाली किसी भाषा में अभ्यावेदन देने का हकदार होगा।
350क.प्रत्येक राज्य और राज्य के भीतर प्रत्येक स्थानीय प्राधिकारी भाषाई अल्पसंख्यक-वर्गों के बालकों को शिक्षा के प्राथमिक स्तर पर मातृभाषा में शिक्षा की पर्याप्त सुविधाओं की व्यवस्था करने का प्रयास करेगा |
350ख. भाषाई अल्पसंवयक-वर्गों के लिए एक  विशेष अधिकारी होगा जिसे राष्ट्रपति नियुक्त करेगा।
351. हिन्दी भाषा के विकास के लिए निदेश